उत्तराखंड

एसटीएफ ने पठानकोट ब्लास्ट मामले में ऊधमसिंह नगर से 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार

देहरादून। पंजाब के पठानकोट बम ब्लास्ट के आतंकी साजिशकर्ता को शरण देने के मामले में एसटीएफ ने ऊधम सिंह नगर के 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।
एसटीएफ ने आरोपियों को पंजाब प्रान्त के नवांशहर, पठानकोट और लुधियाना में हुए आतंकी विस्फोट की घटनाओं के सम्बन्ध में गोपनीय इनपुट पर जनपद ऊधम सिंह नगर स्थित थाना पन्तनगर क्षेत्र से गिरफ्तार किया। आरोपियों द्वारा पठानकोट नवांशहर लुधियाना ब्लास्ट के आतंकी साजिशकर्ता सुखप्रीत उर्फ सुख को जनपद ऊधम सिंह नगर में शरण दी जा रही थी।

गौरतलब है कि माह नवम्बर 2021 में पंजाब के पठानकोट व नवांशहर और लुधियाना में बम ब्लास्ट की घटनाएं हुयी थी। मामले में पंजाब पुलिस द्वारा पूर्व में 6 लोगों की गिरफ्तारी की गयी है और एक आरोपी सुखप्रीत उर्फ सुख के उत्तराखण्ड में शरण दिए जाने की गोपनीय सूचना उत्तराखण्ड एसटीएफ को मिली थी, जिस पर उत्तराखण्ड एसटीएफ की विभिन्न टीमों द्वारा पिछले 03 दिनों से लगातार कार्य करते हुए और सीसीटीवी फुटेज का विश्लेषण करने एवं गोपनीय रूप से जानकारी करने के उपरान्त 4 लोगों शमशेर सिंह उर्फ शेरा उर्फ साबी व उसके भाई हरप्रीत सिंह उर्फ हैप्पी, अजमेर सिंह उर्फ लाडी मण्ड और गुरपाल सिंह उर्फ गुर्री ढिल्लों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गये लोगों में से शमशेर उर्फ शेरा के कब्जे से एक पिस्टल 32 बोर बरामद की गयी है और इनके द्वारा इस अपराध में इस्तेमाल की जा रही कार फोर्ड फिगो को भी बरामद किया गया है। जिनके द्वारा पंजाब में आतंकी बम ब्लास्ट के आरोपी सुखप्रीत उर्फ सुख को अपने घर में शरण देकर और लाने ले जाने के लिये उपरोक्त कार को प्रयोग में लाया जा रहा था। पकड़े गये चारों व्यक्ति कनाडा ऑस्ट्रेलिया, सरबिया से इन्टरनेट/व्हाट्सअप कॉल से जुड़े थे। इन्ही कॉल के माध्यम से विदेशों से संचालित किया जा रहा था। फरार आरोपी सुखप्रीत उर्फ सुख के भी इन्टरनेशनल कॉल्स के सम्पर्क में होने की पुष्टि हुयी है। पकड़े गये चारों व्यक्तियों के खिलाफ आतंकी सुखप्रीत उर्फ सुखी को अपने घर में शरण देना और मदद करने के मामले में थाना पन्तनगर, जिला ऊधम सिंह नगर में मुुक़दमा दर्ज कराया गया है। फरार आतंकी सुखप्रीत उर्फ सुख और उपरोक्त गिरफ्तार आरोपीगण कनाडा निवासी अर्श जो कि खालिस्तान टाइगर फ़ोर्स से जुड़ा है, से इन्टरनेट/व्हाट्सअप कॉलिग के माध्यम से सम्पर्क में थे। इन लोगों को अर्श के द्वारा ही संचालित किये जाने की पुष्टि हुयी है।

आरोपियों में शमशेर सिंह उर्फ शेरा उर्फ साबी पुत्र गुरनाम सिंह निवासी नियर शिव मंदिर ग्राम रामनगर थाना केलाखोड़ा जनपद ऊधम सिंह नगर। हाल पता ग्राम कालेके थाना खलचियॉ जिला अमृतसर देहाती पंजाब उम्र-26 वर्ष, हरप्रीत सिंह उर्फ हैप्पी पुत्र गुरनाम सिंह निवासी नियर शिव मंदिर ग्राम रामनगर थाना केलाखोड़ा जनपद ऊधम सिंह नगर। उम्र-24 वर्ष, गुरपाल सिंह उर्फ गुरी ढिल्लो पुत्र गुरदीप सिंह निवासी गोलू टांडा आर्सल पार्सल थाना स्वार जिला रामपुर उप्र हाल संधू ढाबा बाजपुर उम्र-24 वर्ष और अजमेर सिंह मण्ड उर्फ लाडी पुत्र स्व. गुरवेल सिंह निवासी ग्राम बैतखेड़ी थाना बाजपुर जनपद ऊधम सिंह नगर उम्र-30 वर्ष है।

गिरफ्तारी के इस ऑपरेशन को अंजाम देने वाली एसटीएफ टीम में डॉ पूर्णिमा गर्ग पुलिस उपाधीक्षक , निरीक्षक एम पी सिंह, निरीक्षक ललित मोहन जोशी, उप निरीक्षक दिनेश पन्त,उपनिरीक्षक विनोद चन्द्र जोशी, उपनिरीक्षक के.जी मठपाल, उपनिरीक्षक बृजभूषण गुरूरानी, हे.का.(प्रो) प्रकाश भगत, हेका (प्रो) सत्येन्द्र गंगोला, का. गुरवन्त सिंह, का. किशोर कुमार, का. महेन्द्र गिरी, का. रियाज अख्तर, का. संजय कुमार, का. गोविन्द सिंह बिष्ट, प्रमोद सिंह रौतेला,मनमोहन सिंह,सुरेन्द्र कनवाल,नवीन कुमार, दुर्गा सिंह पापड़ा, राजेन्द्र सिंह महरा और मुहम्मद उस्मान शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *